ख़त लिखता हूँ खून से स्याही ना समझना,

ख़त लिखता हूँ खून से स्याही ना समझना,
किसी मरीज़ का सैंपल आया था मेरा न समझना।