Har Khushi Se Khoobsurat Teri Sham Kar Du

Har Khushi Se Khoobsurat Teri Sham Kar Du,

Apna Pyaar Aur Dosti Tere Naam Kar Du,

Mil Jaye Agar Dobara Yeh Zindgi Ai Dost,

Har Baar Main Ye Zindgi Tujh Par Qurban Kar Du.

हर ख़ुशी से ख़ूबसूरत तेरी शाम कर दूँ,

अपना प्यार और दोस्ती तेरे नाम कर दूँ,

मिल जाये अगर दुबारा यह ज़िन्दगी दोस्त,

हर बार मैं ये ज़िन्दगी तुझ पर कुर्बान कर दूँ।