हंसी के लिए गम कुर्बान,

हंसी के लिए गम कुर्बान,
ख़ुशी के लिए आंसू कुर्बान,
दोस्त के लिए जान भी कुर्बान,
और अगर
दोस्त की गर्लफ्रेंड मिल जाए तो,
साला दोस्त भी कुर्बान।

अर्ज़ किया है…

अर्ज़ किया है…
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है,
गौर फरमाइएगा…
बेइज़्ज़ती और बीवी अजीब चीज़ होती है,
अच्छी तभी लगती है जब दूसरे की होती है।

अर्ज किया है…

अर्ज किया है…
हटा लो अपने चेहरे से ये जुल्फे
ऐ जाने तमन्ना…. खुदा कसम…
अगली बार खाने में बाल आया तो
सजनी से गजनी बना दूंगा।