एक रात रब ने मेरे दिल से पूछा

Ek Raat Rab Ne Mere Dil Se Poochha,

Tu Dosti Mein Itna Kyun Khoya Hai?

Dil Bola… Doston Ne Hi Di Hai Saari Khushiyan,

Varna Pyaar Karke To Dil Hamesha Roya Hai.

एक रात रब ने मेरे दिल से पूछा,

तू दोस्ती में इतना क्यूँ खोया है?

दिल बोला दोस्तों ने ही दी हैं सारी खुशियाँ,

वरना प्यार करके तो दिल हमेशा रोया है।