50+ हिंदी लव शायरी – Love Shayari in Hindi

HI Guys, Below is the list of 50+ Love Shayari. I hope you enjoy with these amazing Hindi Love Shayari. Share these Love Shayari in Hindi with your friends & dear one to make them happy.


मेरी मोहब्बत है वो कोई मज़बूरी तो नही,
वो मुझे चाहे या मिल जाये, जरूरी तो नही,
ये कुछ कम है कि बसा है मेरी साँसों में वो,
सामने हो मेरी आँखों के जरूरी तो नही!


हसीनों से मिलें नज़रें अट्रैक्शन हो भी सकता है,
चढ़े फीवर मोहब्बत का तो एक्शन हो भी सकता है,
हसीनों को मुसीबत तुम समझ कर दूर ही रहना,
ये अंग्रेजी दवाएं हैं रिएक्शन हो भी सकता है.


बड़ी बेरहम है यारा तेरी यादें जितना दूर जाना चाहूँ

और करीब आ जाती हैं मुझे तेरे और करीब ले जाती हैं


हम रूठे तो किसके भरोसे,
कौन आएगा हमें मनाने के लिए,
हो सकता है, तरस आ भी जाए आपको..
पर दिल कहाँ से लाये.. आप से रूठ जाने के लिए!


यूँ हर पल हमें सताया न कीजिये,
यूँ हमारे दिल को तड़पाया न कीजिये,
क्या पता कल हम हों न हों इस जहॉ में,
यूँ नजरें हमसे आप चुराया न कीजिये ।


तेरे बिना टूट कर बिखर जायेंगे,
तुम मिल गए तो गुलशन की तरह खिल जायेंगे,
तुम ना मिले तो जीते जी ही मर जायेंगे,
तुम्हें जो पा लिया तो मर कर भी जी जायेंगे।


तुझमे मुझे रब मिल गया,
तेरी ख़ामोशी में मुझे कुछ तो दिख गया,
तेरे दिल से जैसे कोई नाता जुड़ गया,
और मेरी खुशियों का जैसे मुझे पता मिल गया,
जैसे कोई मिल गया अनजान रास्ते पर,
और चल दिया कोई अनकही से दास्तां पर,
लगता है जैसे कोई दिलगी है,
और रब ने कहा मुझे यही ज़िन्दगी है…


इश्क ओर दोस्ती मेरे दो जहान है,
इश्क मेरी रुह, तो दोस्ती मेरा ईमान है,
इश्क पर तो फिदा करदु अपनी पुरी जिंदगी,
पर दोस्ती पर, मेरा इश्क भी कुर्बान है.


खुदा की रहमत में अर्जियाँ नहीं चलतीं,
दिलों के खेल में खुदगर्जियाँ नहीं चलतीं,
चल ही पड़े हैं तो ये जान लीजिए हुजुर,
इश्क़ की राह में मनमर्जियाँ नहीं चलतीं !


उदास नहीं होना, क्योंकि मैं साथ हूँ,
सामने न सही पर आस-पास हूँ,
पल्को को बंद कर जब भी दिल में देखोगे,
मैं हर पल तुम्हारे साथ हूँ!


दिल के हर कोने में बसाया है आपको,
अपनी यादों में हर पल सजाया है आपको,
यकीं न हो तो मेरी अॉखों में देख लीजिये,
अपने अश्कों में भी छुपाया है आपको।


तुझे देखु तो सारा जहाँ रंगीन नज़र आता है,

तेरे बिना दिल को चेन किसको आता है!

तुम ही हो मेरे दिल की धड़कन,

तेरा बिना यह संसार आवारा नज़र आता है!


इश्क मुहब्बत तो सब करते हैं!
गम-ऐ-जुदाई से सब डरते हैं
हम तो न इश्क करते हैं न मुहब्बत!
हम तो बस आपकी एक मुस्कुराहट पाने के लिए तरसते हैं!


तनहा से हो गए हैं आजकल सितारे,

मौसम है की बदलता ही नहीं,

चकोर बैठे कबसे राह तकते,

ये चाँद है कि निकलता ही नहीं.


दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे,
यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बेठे,
वो हमे एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का,
और हम उनके लिये जिंदगी लुटा बेठे!


ज़रूरी काम है लेकिन रोज़ाना भूल जाता हूँ,
मुझे तुम से मोहब्बत है बताना भूल जाता हूँ,
तेरी गलियों में फिरना इतना अच्छा लगता है,
मैं रास्ता याद रखता हूँ ठिकाना भूल जाता हूँ,
बस इतनी बात पर मैं लोगों को अच्छा नहीं लगता,
मैं नेकी कर तो देता हूँ, जताना भूल जाता हूँ|


सारे शहर को इस बात की खबर हो गयी,
क्यो ना सजा दे इस कमबख्त दिल को,
दोस्ती का इरादा था और महोब्बत हो गयी.


बदलना आता नहीं हमे मौसम की तरह,
हर इक रुत में तेरा इंतज़ार करते हैं,
ना तुम समझ सकोगे जिसे क़यामत तक,
कसम तुम्हारी तुम्हे हम इतना प्यार करते हैं|


खुश नसीब होते हैं बादल,
जो दूर रहकर भी ज़मीन पर बरसते हैं,
और एक बदनसीब हम हैं,
जो एक ही दुनिया में रहकर भी.. मिलने को तरसते हैं.


अंदाज-ऐ-प्यार तुम्हारी एक अदा है.. दूर हो हमसे तुम्हारी खता है.. दिल में बसी है एक प्यारी सी तस्वीर तुम्हारी.. जिस के नीचे ‘आई मिस यू’लिखा है..


काश की खुशियो की दुकान होती,

उनमे हमारी थोरी पहचान होती,

सारी खुशियाँ डाल देता तेरी दामन मे चाहे,

उनकी कीमत हमारी जान क्यो न होती.


प्यार क्या होता है हम नहीं जानते,
ज़िन्दगी को हम अपना नहीं मानते,
गम इतने मील के एहसास नहीं होता,
कोई हमें प्यार करे अब विश्वास नहीं होता.


मोहबत को जो निभाते हैं उनको मेरा सलाम है, और जो बीच रास्ते में छोड़ जाते हैं उनको, हुमारा ये पेघाम हैं, “वादा-ए-वफ़ा करो तो फिर खुद को फ़ना करो, वरना खुदा के लिए किसी की ज़िंदगी ना तबाह करो” – 


आ जाओ किसी रोज़ तुम तो तुम्हारी रूह मे उतर जाऊँ !
साथ रहूँ मैं तुम्हारे ना किसी और को नज़र आऊँ !
चाहकर भी मुझे कोई छू ना सके मुझे कोई इस तरह !
तुम कहो तो यूं तुम्हारी बाहों में बिखर जाऊँ !


बस तेरे नाम से मेरा नाम जुडा रहे ।
इससे नहीं फर्क बेवफाई या वफा करे ।
कुछ तो हो तेरे नाम का पास मेरे ।
तेरे गम से ही बेशक मेरा दिल भरा रहे ।


एक शाम आती है तुम्हारी याद लेकर,
एक शाम जाती है तुम्हारी याद देकर,
पर मुझे तो उस शाम का इंतेज़ार है,
जो आए तुम्हे अपने साथ लेकर..!!


वो मोहब्बतें जो तुम्हारे दिल में हैं, उससे जुबां पर लाओ और बयां कर दो, आज बस तुमकहो और कहते ही जाओ, हम बस सुनें ऐसे बे-ज़ुबान कर दो. 


सिर्फ मोहब्बत को पाना ही मोहब्बत नहीं होती,

कभी तुम भी कर लेते ऐतबार तो ये दुरी न होती,

माफ़ कर देना गलतियों को मेरे,

तुम्हे चोट पोहचे ऐसी कभी मेरी तमन्ना नहीं होती.


घर से बाहर कोलेज जाने के लिए वो नकाब मे निकली,
सारी गली उनके पीछे निकली,
इनकार करते थे वो हमारी मोहबत से,
और हमारी ही तसवीर उनकी किताब से निकली


मेरे आँखों के ख्वाब, दिल के अरमान हो तुम,
तुम से ही तो मैं हूँ , मेरी पहचान हो तुम,
मैं ज़मीन हूँ अगर तो मेरे आसमान हो तुम,
सच मानो मेरे लिए तो सारा जहां हो तुम.


आँखों में रहा दिल में उतरकर नहीं देखा,
कश्ती के मुसाफ़िर ने समन्दर नहीं देखा,
पत्थर कहता है मुझे मेरा चाहनेवाला,
मैं मोम हूँ उसने मुझे छूकर नहीं देखा!


मोहब्बत की गवाही अपने
होने की ख़बर ले जा…
जिधर वो शख़्स रहता है
मुझे ऐ दिल! उधर ले जा…


चाहा है तुम्हें अपने अरमान से भी ज्यादा,
लगती हो हसीन तुम मुस्कान से भी ज्यादा,
मेरी हर धड़कन हर साँस है तुम्हारे लिए,
क्या माँगोगे जान मेरी जान से भी ज्यादा।


प्यार की जंग में जो खुद ही हार जाते हैं
वही तो जिंदगी में अपना प्यार पाते हैं।
दुनिया कहती रहे बातें इधर -उधर की
मुहब्बत को पाकर वह खुद मुस्कराते हैं।।


कभी कोई अपना अनजान हो जाता है,
कभी किसी अनजान से प्यार हो जाता है,
ये जरुरी नही की जो ख़ुशी दे उसी से प्यार हो,
दिल तोड़ने वालो से भी प्यार हो जाता है|


इस कदर हम उनकी मुहब्बत में खो गए,
कि एक नज़र देखा और बस उन्हीं के हम हो गए,
आँख खुली तो अँधेरा था देखा एक सपना था,
आँख बंद की और उन्हीं सपनो में फिर सो गए!


हर दर्द की दवा हो तुम,
आज तक जो मांगी मेरी एक लौटी दुआ हो तुम,
तुम्हे मिलने की तमन्ना नहीं उठती कभी,
क्यूंकि जो हर वक़्त साथ रहती है वो हवा हो तुम.


आप खुद नहीं जानती आप कितनी प्यारी हो,
जान हो हमारी पर जान से प्यारी हो,
दूरियों क होने से कोई फर्क नही पड़ता
आप कल भी हमारी थी और आज बी हमारी हो..


तेरी खुशिओं को सजाना चाहता हूँ,
तुझे देखकर मुस्कराना चाहता हूँ,
मेरी ज़िन्दगी में क्या अहमियत हैं तेरी,
ये लब्ज़ों में नही,पास आकर बताना चाहता हूँ।


रात गुम सुम है मगर खामोश नही,
कैसे कह दूँ आज फिर होश नही,
ऐसे डूबा हूँ तेरी आँखों की गहराई में,
हाथ में जाम है मगर पीने का होश नही।


ईश्क किसी कि शियासत नहीं

कोई शहनशाह आके राज करे
ए तो दिल का दरबार है
कैदखाना है त तो सज़ा हमें मंजुर है।


चल आज कुछ पल तुझे भुलाके,
रब की हसींन दुनिता देख लें,
चल आज कुछ पल तुझे भुलाके,
रब की हसींन दुनिता देख लें,
तुझ में खोकर तो,
हम सब कुछ भूल गए थे.


आशिक़ मरते नही दफनाए जाते हे ,
आशिक़ मरते नही दफनाए जाते हे ,
कब्र खोलके देखो तो इंतजार में पाये जाते हे 


संगमरमर के महल में तेरी ही तस्वीर सजाऊंगा,
मेरे इस दिल में ऐ प्यार तेरे ही ख्वाब सजाऊंगा,
यूँ एक बार आजमा के देख तेरे दिल में बस जाऊंगा,
मैं तो प्यार का हूँ प्यासा जो तेरे आगोश में मर जाऊॅंगा।


ज़माने से नहीं, तन्हाई से डरते हैं,
प्यार से नहीं, रुसवाई से डरते हैं,
मिलने की उमंग है दिल में लेकिन,
मिलने के बाद तेरी जुदाई से डरते हैं


अपनी सांसों में महकता पाया है तुझे,
हर ख्वाब मे बुलाया है तुझे,
क्यू न करे याद तुझ को
जब खुदा ने हमारे लिए बनाया है तुझे.


आप होते जो मेरे साथ तो कैसा होता,
बात बन जाती अगर बात तो कैसा होता,
सबने माँगा है मुझसे मुहब्बत का जवाब,
आप करते जो सवालात तो कैसा होता|


ज़िन्दगी भर साथ चलेंगे
दिलकी यह आरज़ू थी,
साथ थो चले जरूर
होके किस्मत से मजबूर,
नदी के दो किनारे की तरह,
साथ साथ भी लेकिन बहुत दूर.


रंजिश ही सही दिल को दुखाने के लिए आ,
आ फिर से मुझे छोड़ जाने के लिए आ,
कुछ तो मेरे इश्क़ का रहने दे भरम,
तू भी तो कभी मुझे मनाने के लिए आ।


सुर्ख आँखो से जब वो देखते है..
हम घबराकर आँखे झुका लेते है..
क्यू मिलाए उन आँखो से आखे..
सुना है वो आखो से अपना बना लेते है|


मेरी वफाएं सभी लोग जानते हैं;
उसकी जफ़ाएं सभी लोग जानते हैं;
वो ही ना समझ पाए मेरी शायरी;
दिल की सदाएं सभी लोग जानते है।


जिस जिस ने मुहब्बत में,
अपने महबूब को खुदा कर दिया,
खुदा ने अपने वजूद को बचाने के लिए,
उनको जुदा कर दिया|


ज़िंदगी में बार बार सहारा नही मिलता, बार बार कोई प्यार से प्यारा नही मिलता, है जो पास उसे संभाल के रखना, खो कर वो फिर कभी दुबारा नही मिलता


आप होते जो मेरे साथ तो कैसा होता,

बात बन जाती अगर बात तो कैसा होता,

सबने माँगा है मुझसे मुहब्बत का जवाब,

आप करते जो सवालात तो कैसा होता.


आज मुझे ये बताने की इजाज़त दे दो,
आज मुझे ये शाम सजाने की इजाज़त दे दो,
अपने इश्क़ मे मुझे क़ैद कर लो,
आज जान तुम पर लूटाने की इजाज़त दे दो.


जो कोई समझ न सके वो बात हैं हम,
जो ढल के नयी सुबह लाये वो रात हैं हम,
छोड़ देते हैं लोग रिश्ते बनाकर,
जो कभी न छूटे वो साथ हैं हम।


वो दिल ही क्या जो वफ़ा ना करे,
तुझे भूल कर जिएं कभी खुदा ना करे,
रहेगी तेरी मुहब्बत मेरी जिंदगी बन कर,
वो बात और है, अगर जिंदगी वफ़ा ना करे


Above is the collection of Latest 50+ Love Shayari in Hindi, You can share these amazing Hindi Love Shayari with friends and loved one to make their mood romantic and beautiful. If you have any Love Shayari please comment below. We will add your shayari in the list soon.