एक बेवफा से प्यार का अंजाम देख लो

एक बेवफा से प्यार का अंजाम देख लो,

मैं खुद ही शर्मशार हूँ उससे गिला नहीं,

अब कह रहे हैं मेरे जनाज़े पे बैठ कर,

यूँ चुप हो जैसे हमसे कोई वास्ता नहीं।